Tokyo 2020: कोच की नजरअंदाजी पर जताई आपत्ति तो सामान बांध भेजा वापस, एथलीट ने वापस लौटने से किया इंकार

My Khel via Dailyhunt

बेलारुस की धावक क्रिस्टिना सिमानुसकाया ने वापस अपने देश जाने से इंकार कर दिया है। पुलिस अधिकारी ने यह बताने से इंकार कर दिया है कि वो एथलीट इस वक्त कहां है।

कोच की गलती पर भेजा जा रहा था घर अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने कहा कि टोक्यो 2020 में उनकी भागीदारी बनी रहेगी। 1994 से सत्ता में बने हुए प्रेजिडेंट एलेक्जेंडर लुकाशेंको को पिछले साथ काफी विरोध प्रदर्शन का सामना करना पड़ा है।

आईओसी की देख रेख में है महिला एथलीट। बेलारुसियन ओलंपिक समिति ने इस मुद्दे पर बयान देते हुए कहा कि कोच ने सिमानुसकाया को ओलंपिक से वापस भेजने का फैसला डॉक्टर्स के कहने पर लिया है।

ओलंपिक में बेलारुस की इस एथलीट ने 30 जुलाई को महिलाओं की 100 मीटर रेस में भाग लिया। सोमवार को वो 200 मीटर हीट और गुरुवार को 4 x 400 मीटर रिले रेस का हिस्सा बनने वाली थी।

पूरी कहानी देखें