आर्यन को लिए बिना जेल से बाहर नहीं जाऊंगा - दोस्त अरबाज़ मर्चेंट ने किया वादा

Filmi Beat via Dailyhunt

आर्यन खान ड्रग्स केस में आर्यन खान को गिरफ्तार करने का कारण था उनके दोस्त अरबाज़ मर्चेंट के पास से 6 ग्राम चरस की बरामदगी। अब आर्यन खान और अरबाज़ मर्चेंट की जम़ानत के लिए अलग अलग वकील केस लड़ रहे हैं।

इससे पहले, आर्यन खान के वकील, सतीश मानेशिंदे साफ कर चुके हैं कि आर्यन खान के पास से कोई ड्रग्स बरामद नहीं हुई थी। ड्रग्स असलम मर्चेंट नाम के लड़के ने अपने जूते में छिपा रखी थी और उससे आर्यन का कोई लेना देना नहीं है।

आर्यन की ज़मानत, अरबाज़ के जुर्म पर कैसे टिकी हो सकती है।

भारत के पूर्व अटर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने हाई कोर्ट में आर्यन के केस की सुनवाई के दौरान, कहा - मेरे क्लाईंट को किसी और के जूते से बरामद हुई ड्रग्स की सज़ा क्यों मिल रही है। वो भी केवल 6 ग्राम चरस।

मुकुल रोहतगी ने साफ किया कि अरबाज़ भी इस बात को मानने से इंकार कर रहे हैं कि उनके पास से कोई भी ड्रग्स बरामद हुई। तो फिर आर्यन को इन सब की सज़ा क्यों दी जा रही है और वो इतने दिन से जेल में क्यों हैं?

अरबाज़ ने अपनी ज़मानत याचिका में ये साफ किया है कि उनके पास कम ही चरस बरामद हुई थी लेकिन उनके पंचनामे में एनसीबी ने इसकी मात्रा बढ़ाकर लिख दी है।

अरबाज़ मर्चेंट का कहना है कि एनसीबी उन पर झूठा केस कर रही है, यही कारण है कि उन्होंने कोर्ट से गुज़ारिश की थी कि पोर्ट की सीसीटीवी फुटेज मुहैया करवाई जाए।

एनसीबी पर आरोप लगाते हुए अरबाज़ ने कहा कि अगर सीसीटीवी फुटेज देखी जाएगी तो साफ समझ जाएगा कि उनके पास कोई कॉन्ट्राबैंड नहीं था। अरबाज़ का कहना है कि उनके पास तो बोर्डिंग पास तक नहीं था।

वो उस शिप पर चढ़े ही नहीं थे जिस पर पार्टी की बात कही जा रही थी। NCB ने उन्हें पोर्ट पर ही गिरफ्तार कर लिया था।

गौरतलब है कि इस केस में सबसे पहले गिरफ्तार होने वाले तीन लोग थे आर्यन खान, अरबाज़ मर्चेट और मॉडल मुनमुन धमीचा।

आर्यन के पास से जहां कोई ड्रग्स नहीं बरामद हुई वहीं एनसीबी की मानें तो अरबाज़ मर्चेंट ने अपने जूतों में चरस छिपा रखी थी जिसक सेवन वो और आर्यन शिप पर जाकर करने वाले थे।

पूरी कहानी देखें