Maruti Suzuki का उत्पादन सामान्य स्तर के पास पहुंचा, चिप सप्लाई हुई बेहतर

Drive Spark via Dailyhunt

Maruti Suzuki का उत्पादन अगले महीने से सामान्य स्तर पर पहुंच सकता है, कंपनी नवंबर महीने में 145, 000 - 150, 000 वाहनों का उत्पादन कर सकती है।

सेमीकंडक्टर की सप्लाई बेहतर हुई है जिस वजह से उत्पादन बेहतर होने वाली है, Maruti Suzuki जल्द ही स्विफ्ट, डिजायर, विटारा ब्रेजा जैसे लोकप्रिय मॉडल्स के उत्पादन को बढ़ाने वाली है।

सूत्रों के अनुसार यह उत्पादन संख्या का अनुमान Maruti Suzuki ने उपकरण सप्लायर को यह जानकारी दी है। बतातें चले कि सिंतबर अक्टूबर में उत्पादन में 50 - 60 प्रतिशत की कमी दर्ज की गयी है, इसका बड़ा कारण सेमीकंडक्टर की कमी है जो कि आजकल के आधुनिक कारों में बेहद जरुरी हो गया है।

महामारी की स्थिति बेहतर हुई है जिस वजह से मलेशिया में सेमीकंडक्टर का उत्पादन फिर से पटरी पर लौटने वाला है, ऐसे में मारुति सुजुकी का उत्पादन दिसंबर में नवंबर से भी अधिक रहने वाला है।

कंपनी का अक्टूबर में उत्पादन सितंबर के मुकाबले 40 प्रतिशत अधिक रहा है और अक्टूबर के मुकाबले नवंबर में 20 प्रतिशत अधिक रहने वाला है। ऐसे में दिसंबर तक स्थिति सामान्य हो जायेगी।

देश में दूसरी लहर आने से पहले जनवरी से मार्च तिमाही के बीच मारुति सुजुकी का औसत उत्पादन 167, 000 यूनिट रहा है।

बतातें चले कि मलेशिया में उत्पादित किये गये चिप को भारत में पहुंचने में 6 से 8 हफ्ते का समय लगता है और वहां सितंबर अक्टूबर में उत्पादन 100 प्रतिशत तक पहुंच गया है, ऐसे में यहां नवंबर दिसंबर में उत्पादन बेहतर होने वाला है।

सियाम के अनुसार अगर मारुति सुजुकी नवंबर में 150, 000 यूनिट का उत्पादन करने में कामयाब रहती है तो यह पिछले 4 साल का सबसे बेहतरीन प्रदर्शन होगा। इसके पहले कंपनी ने नवंबर 2017 में 154, 000 यूनिट का उत्पादन किया था।

कंपनी ने सितंबर में 81,278 यूनिट का उत्पादन किया था जो कि पिछले 8 साल में सबसे कम था, हालांकि कंपनी की मांग में बढ़त दर्ज की गयी है।

कंपनी का पिछले तीन महीने में औसत उत्पादन 121, 000 यूनिट रहा है, कंपनी ने सितंबर में करीब 1 लाख कारों का उत्पादन किया था लेकिन चिप की कमी के चलते 20 प्रतिशत कार डीलरशिप को भेजी नहीं जा सकी।

ऐसे में जैसे ही चिप की सप्लाई सामान्य होती है, कंपनी आने वाले महीनों में अधिक उत्पादन करने के साथ पहले से रखे वाहनों को डीलरशिप भेजना शुरू करेगी।

खबर है कि चिप की कमी की वजह से मारुति सुजुकी के पास पुराने आर्डर 170, 000 से बढ़कर 250, 000 हो गये हैं। वर्तमान में डीलरशिप के पास कुछ ही हफ़्तों की इन्वेंटरी है।

भारत में त्योहारी सीजन चुका है और आने वाले हफ्ते में अधिक से अधिक ग्राहक डिलीवरी लेना चाहते हैं, अब ऐसे में देखना होगा कि क्या देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी ग्राहकों को निराश करती है।

सितंबर 2021 के दौरान मारुति की बिक्री में 57 प्रतिशत की जबरदस्त गिरावट दर्ज की गई। मारुति ने सितंबर 2021 में घरेलू बाजार में 63,111 यूनिट कारों की बिक्री की, जबकि पिछले साल इसी महीने कंपनी ने 1,47,912 यूनिट कारें बेचीं थीं।

कंपनी के लाइनअप में अर्टिगा और एक्सएल 6 जैसी कारों को छोड़कर अन्य सभी कारों की बिक्री घटी है।

ड्राइवस्पार्क के विचारअपने कारों का लंबे समय से इन्तजार कर रहे ग्राहकों के लिए यह एक शानदार खबर है, ऐसे में उम्मीद की जा सकती है कि अगले साल के शुरुआत के पहले ग्राहकों को सामान्य रूप से डिलीवरी मिलनी शुरू हो जायेगी।

वर्तमान में चिप की कमी के चलते ग्राहकों को बहुत लंबा इंतजार करना पड़ रहा है।

पूरी कहानी देखें