Toyota BZ इलेक्ट्रिक एसयूवी का हुआ खुलासा, बन सकती है ब्रांड की सबसे सस्ती इलेक्ट्रिक कार

Drive Spark via Dailyhunt

दिग्गज जापानी वाहन निर्माता टोयोटा मोटर ने हाल ही में 15 इलेक्ट्रिक वाहनों के कॉन्सेप्ट मॉडलों का खुलासा किया था। कंपनी ने टोयोटा BZ स्मॉल क्रॉसओवर का भी प्रदर्शन किया था, जिसे सस्ती इलेक्ट्रिक एसयूवी होने का दावा किया जा रहा है।

बताया जाता है कि टोयोटा की यह कॉम्पैक्ट इलेक्ट्रिक एसयूवी अपने सेगमेंट में सबसे एफिशिएंट होगी। यह प्रति 100 किलोमीटर केवल 12.5 किलोवाट बिजली की खपत करेगी, जो कि रेनॉल्ट जोई और JAC e- JS 1 से भी अधिक रेंज देने की क्षमता रखती है।

टोयोटा का लक्ष्य छोटी बैटरी वाले वाहनों के माध्यम से इलेक्ट्रिक कारों को लोकप्रिय बनाना है जो उन्हें हल्का और किफायती बनाती हैं।

टोयोटा के सीईओ अकी टोयोटा का मानना है कि रेंज का विस्तार करने के लिए जितनी अधिक बैटरी जोड़ी जाती है, वाहन उतना ही बड़ा, भारी और महंगा होता जाता है।

चूंकि यह एसयूवी एक छोटी है, इसलिए कंपनी इसे हल्का, अधिक किफायती और सिंगल चार्ज पर ज्यादा रेंज देने वाला बनाएगी।

टोयोटा BZ अर्बन कॉम्पैक्ट एसयूवी अपनी कॉन्सेप्ट मॉडल में पूरी तरह तैयार दिखती है। इसके प्रोडक्शन मॉडल में मामूली बदलाव करने की उम्मीद है। यह छोटा क्रॉसओवर हाल ही में लॉन्च किए गए Toyota bZ 4 X और Toyota Aygo X के डिजाइन से प्रेरित है।

यह Peugeot e- 2008 और Volkswagen ID .2 जैसी छोटी इलेक्ट्रिक कारों से मुकाबला करेगा।

टोयोटा bZ 4 X ई-टीएनजीए प्लेटफॉर्म पर आधारित है। वहीं आगामी टोयोटा BZ कॉम्पैक्ट इलेक्ट्रिक एसयूवी को पूरी तरह एक नए प्लेटफॉर्म पर तैयार किया जा सकता है, जो वर्तमान में E 3 नामक अधिक किफायती बैटरी चालित इलेक्ट्रिक कारों के लिए विकास के अधीन है।

टोयोटा नए साल से बढ़ाएगी कीमत टोयोटा ने भारत में नवंबर 2021 की बिक्री के आंकड़ों को साझा किया है। कंपनी द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार नवंबर 2021 में कंपनी ने 13,003 यूनिट्स कारों की बिक्री की है।

यह नवंबर 2020 में बेची गई 8,508 यूनिट्स की तुलना में 53 प्रतिशत अधिक है। कंपनी की इस साल नवंबर की बिक्री अक्टूबर की बिक्री से भी अधिक रही, अक्टूबर 2021 में कुल 12,440 यूनिट कारों की बिक्री की गई थी।

इनपुट लागत बढ़ने से महंगी हुई कारें Toyota अपने वाहनों की कीमत 1 जनवरी से बढ़ाने जा रही है। कंपनी ने कहा कि कच्चे माल की कीमत बढ़ने से इनपुट लागत बढ़ गई है जिसकी वजह से वाहनों की कीमत में वृद्धि की जा रही है।

लेकिन इसके साथ भी ग्राहकों को भरोसा दिलाया है कि इसका न्यूनतम प्रभाव उनपर पड़े इसके लिए उचित कदम उठाये गये हैं। कंपनी कारों की कीमत में कितनी वृद्धि करने वाली है इसका खुलासा नहीं किया गया है।

बता दें कि हर साल वाहन कंपनियां मॉडलों की कीमतों में इजाफा करती हैं। लेकिन इस साल कोरोना महामारी के दौरान आपूर्ति में कमी के वजह से इनपुट लागत तेजी से बढ़ा। इस वजह से कंपनियों ने इस साल कई बार कीमतों में बढ़ोतरी की।

इस साल के आखरी महीने में वाहन कंपनियों की कीमत वृद्धि की घोषणा से यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि यह सिलसिला अगले साल भी जारी रहने वाला है।

टोयोटा दे रही है भारी छूट साल के अंतिम महीने में टोयोटा किर्लोस्कर मोटर्स अपने ग्राहकों के लिए भारी छूट ऑफर्स की पेशकश कर रही है। टोयोटा अपने ग्लैंजा, अर्बन क्रूजर, इनोवा क्रिस्टा मॉडल्स पर 22,000 रुपये तक की छूट का लाभ उठाने का मौका दे रही है।

कंपनी इन मॉडलों पर आकर्षक फाइनेंस बेनिफिट भी उपलब्ध कर रही है।

पूरी कहानी देखें