Kia Carens का भारत में ही किया जाएगा निर्माण, 20 प्रतिशत किया जाएगा एक्सपोर्ट

Drive Spark via Dailyhunt

Kia Carens को आने वाले महीनों में लॉन्च किया जाना है, अन्य मॉडल्स की तरह ही इसका निर्माण भी भारत स्थित अनंतपुर प्लांट में किया जाएगा।

Kia Carens को अन्य देशों में भी लॉन्च किया जाएगा जिस वजह से कुल उत्पादन का 20 प्रतिशत एक्सपोर्ट किया जाएगा। इसे लेफ्ट हैंड ड्राइव राईट हैंड ड्राइव दोनों तरह के देशों में भेजा जाएगा जिसमें इंडोनेशिया लैटिन अमेरिका जैसे देश शामिल है।

Kia Carens का उत्पादन सिर्फ भारत में ही किया जाएगा, इस एमपीवी को भी सेल्टोस सॉनेट की तरह भारत में बनाया जाएगा लेकिन अन्य देशों में भी बेचा जाएगा।

कंपनी Carens के सफलता की उम्मीद कर रही है लेकिन एक्सपोर्ट की वजह से इसकी बिक्री और बेहतर होने वाली है, इंडोनेशिया लैटिन अमेरिका जैसे देशों में भी 6/7 सीटर वाले वाहनों की मांग अच्छी चल रही है।

किया मोटर्स वर्तमान में दो शिफ्ट के साथ 3,00,000 यूनिट प्रतिवर्ष का उत्पादन कर रही है। कंपनी ने बताया है कि अनुमान है कि इस साल 2,25,000 यूनिट वाहनों की बिक्री करने वाली है जिसमें घरेलू एक्सपोर्ट शामिल है।

हालांकि Carens को लाने के साथ कंपनी उत्पादन को बढ़ाने वाली है और अगले साल के शुरुआत से तीसरी शिफ्ट शुरू करने वाली है।

अगले साल से कंपनी 3,00,000 यूनिट वाहनों को बेचने का लक्ष्य लेकर चल रही है। वहीं कंपनी उत्पादन को भी 3,00,000 यूनिट से बढ़ाकर 4,00,000 यूनिट करने वाली है, इसके साथ ही कंपनी दूसरा प्लांट खोलने की भी योजना बना रही है।

आने वाले महीनों में इससे जुड़ी खबर सकती है, कंपनी लगातार तेजी से विस्तार कर रही है। कंपनी अपने डीलरशिप का भी विस्तार करने में लगी हुई है।

किया इंडिया ने घोषणा की है कि वह 2022 के अंत तक भारत के 225 शहरों में 400 टचप्वाइंट के साथ मौजूद होगी। वर्तमान में, कंपनी 198 शहरों में 339 टचप्वाइंट के साथ संचालन कर रही है।

नया लक्ष्य भारत में कंपनी की उपस्थिति को महत्वपूर्ण रूप से बढ़ाएगा और निश्चित रूप से, यह सुनिश्चित करने के लिए किया गया है कि पूरे देश में ग्राहकों को ब्रांड को महसूस करने और इसे एक विकल्प के रूप में अपनाने का मौका मिले।

कंपनी ने हाल ही में बताया था कि देश के छोटे शहरों में किया की कारों की मांग बढ़ रही है। कंपनी इसके अनुरूप छोटे शहरों में भी अपनी उपस्थिति बढ़ाने पर धन केंद्रित कर रही है।

भारतीय बाजार में किया ने दो साल पूरे कर लिए हैं, इस दौरान कंपनी ने तीन मॉडलों को लॉन्च किया है जिसमें सेल्टोस, सॉनेट और कार्निवल शामिल हैं।

किया कैरंस कई इंजन गियरबॉक्स विकल्प में लाया जाएगा, जिसमें पेट्रोल डीजल दोनों शामिल है। इसके साथ ही कई ड्राइव मोड जैसे ईको, स्पोर्ट नार्मल दिया जाएगा।

अनुमान है कि इसमें 1.5 लीटर पेट्रोल इंजन, 1.5 लीटर डीजल इंजन 1.4 लीटर टर्बो पेट्रोल इंजन का विकल्प दिया जा सकता है, इसके साथ ही मैन्युअल, ऑटोमेटिक, डीसीटी गियरबॉक्स का भी विकल्प दिया जाना है।

कंपनी का दावा है कि यह अपने सेगमेंट सबस अधिक व्हीलबेस वाली मॉडल है। इसके साथ ही इलेक्ट्रिक फोल्डिंग सीट, 6 7 सीटिंग विकल्प के साथ आती है।

सुरक्षा की बात करें तो कंपनी का दावा है कि यह देश की सबसे सुरक्षित कारों में एक होने वाली है, इसमें 6 एयरबैग स्टैंडर्ड तौर पर सभी वैरिएंट में दिया जाएगा।

इसके साथ ही सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए इसमें इलेक्ट्रॉनिक स्टेबिलिटी कंट्रोल, व्हीकल स्टेबिलिटी मैनेजमेंट, हिल स्टार्ट कंट्रोल, डाउनहिल ब्रेक कंट्रोल, टायर प्रेशर मोनिटरिंग सिस्टम, सभी पहियों पर डिस्क ब्रेक दिया गया है।

Kia Carens भारतीय बाजार में एक महत्वपूर्ण मॉडल होने वाली है, इस एमपीवी को लाये जाने के साथ कंपनी कई चीजों में भी बदलाव करने वाली है। अब देखना होगा कि कंपनी प्रोडक्शन का किस तरह से विस्तार करने वाली है।

पूरी कहानी देखें