प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया गंगा एक्सप्रेसवे का शिलान्यास, लड़ाकू विमान के लिए होगी एयर स्ट्रीप

Drive Spark via Dailyhunt

आज उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में पीएम मोदी ने गंगा एक्सप्रेसवे का शिलान्यास ( Ganga Expressway Inauguration) किया।

गंगा एक्सप्रेसवे 36,200 करोड़ रुपये की लागत से बनाया जाएगा। 594 किलोमीटर लंबा यह एक्सप्रेसवे यूपी के 10 जिलों को जोड़ेगा और मेरठ से प्रयागराज तक सीधा संपर्क प्रदान करेगा।

7 घंटे में पूरी होगी प्रयागराज से दिल्ली तक की दूरी बता दें कि 594 किलोमीटर लंबा गंगा एक्सप्रेसवे देश का सबसे लंबा एक्सप्रेसवे होने वाला है। यह एक्सप्रेसवे मेरठ के बिजोली से शुरू होते हुए प्रयागराज के जुड़पुर दंडु गांव में समाप्त होगा।

यह यूपी के 10 जिलों, हापुड़, बुलंदशहर, अमरोहा, संभल, बदाओं, शाहजहांपुर, हरदोई, उन्नाओं, राय बरेली और प्रतापगढ़ को एक दूसरे से जोड़ेगा।

शुरूआत में इस एक्सप्रेसवे को 6 लेन में बनाया जा रहा है, लेकिन जरूरत पड़ने पर इसका विस्तार 8 लेन तक किया जा सकता है। इस एक्सप्रेसवे पर मानव रहित टोल बूथ की सुविधा होगी जहां फास्टैग के माध्यम से वाहनों से टोल टैक्स वसूला जाएगा।

लड़ाकू विमानों के लिए होगी इमरजेंसी एयर स्ट्रिप बताया जाता है कि हाल ही में लॉन्च किये गए पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के तरह ही गंगा एक्सप्रेसवे पर भी भारतीय सेना के लड़ाकू विमानों की टेक ऑफ और लैंडिंग के लिए इमरजेंसी एयर स्ट्रिप की सुविधा होगी।

यह एयर स्ट्रिप 3.5 किलोमीटर लंबा होगा जो शाहजहांपुर में पड़ने वाले एक्सप्रेसवे के एक भाग पर बनाया जाएगा।

इस एक्सप्रेसवे पर वाहनों की इमरजेंसी सर्विस के साथ- साथ यात्रा के दौरान आराम करने और खाने- पीने के लिए होटल और रेस्टरूम की भी सुविधा उपलब्ध की जाएगी। इसके अलावा इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए चार्जिंग स्टेशन और बैटरी स्वैपिंग स्टेशन भी उपलब्ध होंगे।

शाहजहांपुर में गंगा एक्सप्रेसवे की आधारशिला रखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, " काकोरी से क्रांति की अलख जगाने वाले वीर शहीद क्रांतिकारी रामप्रसाद बिस्मिल, अशफाक उल्ला खान और रोशन सिंह को नमन करता और उनके पैर छूता हूं।

मेरा सौभाग्य है कि यहां की मिट्टी को माथे में लगाने का अवसर मिला।"

यूपी के लिए खुलेंगे प्रगति के द्वार पीएम मोदी ने आगे कहा कि आज यूपी के सबसे बड़े गंगा एक्सप्रेसवे पर काम शुरू हो रहा है। यह एक्सप्रेसवे यूपी की प्रगति के नए द्वार खोलेगा।

उन्होंने कहा कि करीब 600 किलोमीटर के गंगा एक्सप्रेसवे पर 36,000 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।

पीएम मोदी ने गंगा एक्सप्रेसवे के फायदे बताते हुए कहा कि यह एक्सप्रेसवे केवल क्षेत्रों के बीच बेहतर संपर्क प्रदान करेगा बल्कि हजारों की संख्या में रोजगार का सृजन भी करेगा।

गंगा एक्सप्रेसवे के बनने से क्षेत्र में कई उद्योग- धंधे लगेंगे और लघु उद्योंगों से किसानों की आय बढ़ाने में मदद मिलेगी।

उन्होंने कहा कि गंगा एक्सप्रेसवे सिर्फ पूर्वी और पश्चिमी यूपी को ही नहीं जोड़ेगा बल्कि दिल्ली आने- जाने वालों के लिए भी यात्रा के समय को कम करेगा।

बता दें कि गंगा एक्सप्रेसवे के निर्माण और देख- रेख के लिए पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप ( पीपीपी) मॉडल के तहत 30 साल का एग्रीमेंट किया गया है।

इस एक्सप्रेसवे पर वाहनों की अधिकतम गति सीमा 120 किलोमीटर प्रति घंटा तय की गई है। यह एक्सप्रेसवे ललितपुर में बनने वाले एयरपोर्ट और बुंदेलखंड के डिफेंस कॉरिडोर को भी जोड़ेगा।

बुंदेलखंड एयरपोर्ट का उद्घाटन घरेलू उड़न के लिए किया जाएगा, लेकिन बाद में इसे अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए भी विकसित किया जाएगा।

source: drivespark.com ऐसी ही और लोकल खबरों के लिए, डाउनलोड करें हमारा नया लोकल वीडियो ऐप पब्लिक वाइब Dailyhunt

पूरी कहानी देखें