Toyota C + Pod इलेक्ट्रिक मिनी कार का हुआ खुलासा, एक बार के चार्ज में चलेगी 150 Kms

Drive Spark via Dailyhunt

जापान की दिग्गज वाहन निर्माता टोयोटा मोटर्स ने हाल ही में अपनी दो सीटर C + pod इलेक्ट्रिक कार का खुलासा किया है।

यह इलेक्ट्रिक कार कम दूरी की शहरी परिवहन को ध्यान में रख कर तैयार की गई है। यहां कोविड से संबधित सभी नए अपडेट पढ़ेंजापान के बाजार में C + pod की बिक्री अगले साल की शुरूआती महीनों में शुरू की जाएगी।

यह इलेक्ट्रिक कार कंपनी की जीरो एमिशन मोबिलिटी की नीति के तहत लॉन्च की जाएगी।

जापान में इसे दो और तीन कलर टोन में उपलब्ध किया जाएगा। C + pod को पॉवर देने के लिए इसमें 9.06 kWh का लिथियम आयन बैटरी पैक लगाया गया है जो फुल चार्ज पर इसे 150 किलोमीटर तक की रेंज देता है।

इस इलेक्ट्रिक कार की टॉप स्पीड 60 किलोमीटर प्रति घंटा है।

C + pod शहरी ट्रैफिक के लिए कॉम्पैक्ट डिजाइन दिया गया है। इसके साइज की बात करें तो यह 2,490 मिमी लंबी, 1,290 मिमी चौड़ी और 1,550 मिमी ऊंची है। तुलनात्मक तौर पर देखा जाए तो यह टाटा नैनो से भी छोटी है।

C + pod का टर्निंग रेडियस केवल 3.9 मीटर का है जिसका मतलब है कि यह कम जगह में भी इसे आसानी से पार्क किया जा सकता है। डिजाइन की बात करें तो इसमें एलईडी हेड लाइट्स, एलईडी टेल लाइट्स और एलईडी टर्न इंडिकेटर दिए गए हैं।

चार्जिंग इनलेट हेड लाइट के बीच स्थित है। इलेक्ट्रिक कार के वजन को हल्का रखने के लिए बाहरी पैनल फाइबर से बनाया गया है।

टोयोटा C + pod के केबिन के अंदर 1,100 मिमी की जगह है जो ड्राइवर के साथ एक पैसेंजर के लिए पर्याप्त है। इसके डैशबोर्ड में ब्लैक और व्हाइट रंग दिया गया है और मुख्य ड्राइवर डिस्प्ले डैशबोर्ड के बीच में लगाया गया है।

एयर कंडीशनिंग और अन्य कंट्रोल्स के लिए डैशबोर्ड के बीच में वर्टीकल पैनल दिया गया है।

टोयोटा का कहना है कि C + pod एक ऐसी संरचना का उपयोग करता है जो कई घटकों में प्रभाव ऊर्जा को कुशलता से फैलाता है और अवशोषित करता है, और फ्रंटल, साइड या रियर प्रभावों की स्थिति में सुरक्षा सुनिश्चित करता है।

अन्य वाहनों का पता लगाने के लिए एक पूर्व- टकराव सुरक्षा प्रणाली को मानक के रूप में शामिल किया गया है।

टोयोटा का दावा है कि 200 V/ 16 A आउटलेट का उपयोग करते समय C + pod को लगभग पांच घंटे में फुल चार्ज किया जा सकता है, जबकि 200 V/ 6 A आउटलेट का उपयोग करने पर इसे लगभग 16 घंटे में चार्ज किया जा सकता है।

बता दें कि भारत में Toyota अपने वाहनों की कीमत 1 जनवरी से बढ़ाने जा रही है। कंपनी ने कहा कि कच्चे माल की कीमत बढ़ने से इनपुट लागत बढ़ गई है जिसकी वजह से वाहनों की कीमत में वृद्धि की जा रही है।

लेकिन इसके साथ भी ग्राहकों को भरोसा दिलाया है कि इसका न्यूनतम प्रभाव उनपर पड़े इसके लिए उचित कदम उठाये गये हैं। कंपनी कारों की कीमत में कितनी वृद्धि करने वाली है इसका खुलासा नहीं किया गया है।

बता दें कि हर साल वाहन कंपनियां मॉडलों की कीमतों में इजाफा करती हैं। लेकिन इस साल कोरोना महामारी के दौरान आपूर्ति में कमी के वजह से इनपुट लागत तेजी से बढ़ा। इस वजह से कंपनियों ने इस साल कई बार कीमतों में बढ़ोतरी की।

इस साल के आखरी महीने में वाहन कंपनियों की कीमत वृद्धि की घोषणा से यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि यह सिलसिला अगले साल भी जारी रहने वाला है।

साल के अंतिम महीने में टोयोटा किर्लोस्कर मोटर्स अपने ग्राहकों के लिए भारी छूट ऑफर्स की पेशकश कर रही है। टोयोटा अपने ग्लैंजा, अर्बन क्रूजर, इनोवा क्रिस्टा मॉडल्स पर 22,000 रुपये तक की छूट का लाभ उठाने का मौका दे रही है।

कंपनी इन मॉडलों पर आकर्षक फाइनेंस बेनिफिट भी उपलब्ध कर रही है।

पूरी कहानी देखें