Amazon Notice: हजारों भारतीय कर्मचारियों को 30 नवंबर तक इस्तीफा देने का नोटिस, नहीं तो कर दिया जाएगा Fire
Amazon Notice: दुनिया के कई देशों में मंदी धीरे- धीरे दस्तक दे रही है, एक के बाद एक देशों में लोगों की नौकरी पर संकट मंडरा रहा है। भारत में भी प्राइवेट कंपनियों ने लोगों को नोटिस देना शुरू कर दिया है। इस कड़ी में अब दिग्गज प्राइवेट कंपनी अमेजन भी शामिल हो गई है।
रिपोर्ट के अनुसार अमेजन ने भारत के कई कर्मचारियों को खुद से इस्तीफा देने को कहा है। कंपनी की ओर से कर्मचारियों को कहा गया है कि वह खुद से रिजाइन कर दें और इसके बदले में एक तय राशि ले लें।
रिपोर्ट की मानें तो तकरीबन 10000 कर्मचारियों को इस हफ्ते नौकरी से बाहर कर दिया है, माना जा रहा है कि भविष्य में और भी कर्मचारियों को नोटिस दिया जा सकता है। Tata to buy Bisleri: 7000 करोड़ में बिस्लेरी को खरीदने की तैयारी में टाटा, जल्द हो सकती है डील फाइनल
कर्मचारियों को खुद से इस्तीफा देने का विकल्प रिपोर्ट की मानें तो कई भारतीय कर्मचारी खुद से ही वॉलेंटरी सेपरेशन प्रोग्राम के तहत नौकरी छोड़ने की तैयारी कर रहे हैं।
कंपनी ने इन कर्मचारियों को विकल्प दिया है कि वह खुद से इस्तीफा देकर एक तय राशि का लाभ ले सकते हैं, अन्यथा कंपनी खुद से कर्मचारियों को बाहर करती है तो उन्हें किसी भी तरह की राशि नहीं मिलेगी।
कई कर्मचारी जो एल 1 से एल 7 बैंड के तहत अमेजन एक्सपीरिएंस एवं टेक्नोलॉजी टीम के साथ काम कर रहे थे, उन्हें नोटिस मिल गया है। इन कर्मचारियों को कंपनी के वीएसपी के तहत इस्तीफा देने का विकल्प दिया गया है।
30 नवंबर तक का अल्टिमेटम अगर कर्मचारी वीएसपी के तहत बाहर जाते हैं तो उन्हें इस वर्ष 30 नवंबर तक इस विकल्प को चुनना होगा। कंपनी के आंतरिक दस्तावेज की बात करें तो वीएसपी के तहत कर्मचारियों को खुद से इस्तीफा देने का विकल्प होगा, इसके बदले उन्हें वीएसपी का लाभ मिलेगा।
कंपनी की ओर से कहा गया है कि आप इस बात को याद रखिए कि वीएसपी में हिस्सा लेने के लिए आपको फॉर्म 30 नवंबर 2022 सुबह 6.30 बजे तक भर देना है।
22 हफ्ते का बेस पे मिलेगा जो कर्मचारी वीएसपी के तहत बाहर जाने का फैसला लेते हैं उन्हें 22 हफ्ते की बेस पे मिलेगी, इसके साथ ही हर छह महीने के लिए एक हफ्ते की बेस सैलरी कर्मचारियों को दी जाएगी। इसके साथ ही कर्मचारियों को मेडिकल इंश्योरेंस कवरेज भी 6 महीने के लिए मिलेगा।
लेकिन जो कर्मचारी परफॉर्मेंस इंप्रूवमेंट प्रोग्राम यानि पीआईपी के तहत हैं, उन्हें वीएसपी का विकल्प नहीं मिलेगा।
कंपनी की ओर से किया गया है मेल बुधवार को अमेजन की ओर से इस बात की पुष्टी की गई है कि वह अलग- अलग विभाग से हजारों कर्मचारियों को बाहर करने जा रही है। कर्मचारियों को एक इमेल के जरिए इसकी जानकारी दी गई ङै।
अमेजन के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट डेविड लिंप ने कहा है कि अमेजन टीमों का विलय कर रही है। उन्होंने बताया कि अब कंपनी को कुछ पदों की जरूरत नहीं है। खर्च को कम करने के लिए अधिकतर कंपनियों कर्मचारियों की संख्या को कम कर रही है।
By Ankur Singh Oneindia source: oneindia.com Dailyhunt