चीन में कोरोना मचा रहा हाहाकार, इतने मामले आए कि अब तक के सारे रिकॉर्ड टूट गए
2019 के आखिरी हफ्ते चीन से कोरोना का प्रकोप फैलना शुरू हुआ था। अब जब सारी दुनिया में इस वायरस के फैलाव पर लगाम लगा हुआ है, चीन में यह खत्म होने की जगह बढ़ता ही जा रहा है।
राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग द्वारा 25 नवंबर को जारी आंकड़ों के मुताबिक चीन में एक बार फिर 24 घंटों में रिकॉर्ड 32,943 मामले सामने आए हैं। चीन में बीते 3 सालों में कोरोना के इतने मामले कभी नहीं आये थे।
Image- PTI मलेशिया में अनवर इब्राहिम के PM बनने से कट्टरपंथी हुए नाराज, पुलिस ने देश भर में बढ़ाई सुरक्षा व्यवस्था
चीन में जीरो कोविड पॉलिसी लागू चीन में एक दिन पहले भी कोरोना के मामले 30 हजार के पार मिले थे। 13 अप्रैल के बाद यह दूसरा दिन है जब करोना के मामले 30 हजार के पार गए हैं। आपको बता दें कि चीन के काफी शहरों में लंबे वक्त से बेहद कड़े जीरो कॉविड पॉलिसी लागू हैं।
जबकि इस महीने की शुरुआत में ये घोषणा की गई थी कि जीरो कोविड पॉलिसी को खत्म कर दिया जाएगा। लेकिन कोरोना के मामले के साथ ही इसे जारी रखा गया है। चीन में सर्दी बढ़ते ही कोरोना मामलों की संख्या भी बढ़ती जा रही है।
राजधानी बीजिंग की हालत और खराब राजधानी बीजिंग में बीते तीन दिनों से लगातार हजार से अधिक कोरोना केस रहे हैं। चिंता की बात ये भी है इस बार कोरोना के कारण मौतों की संख्या भी बढ़ रही है।
बीजिंग में 21 नवंबर के बाद से अब तक 4 मौतें हो चुकी हैं, जिसके बाद प्रतिबंधों को और कड़ा कर दिया गया है। प्रशासन ने लोगों को उनके फ्लैटों तक सीमित करते हुए विशाल अपार्टमेंट ब्लॉक और व्यावसायिक भवनों को बंद कर दिया है।
चाओयांग में सबसे अधिक कोरोना मामले बीजिंग के अधिकारियों ने गुरुवार को कहा कि वे कोविड रोगियों के क्वारंटाइन और उपचार के लिए एक प्रमुख प्रदर्शनी केंद्र को एक अस्थायी अस्पताल में परिवर्तित कर रहे हैं।
एक अन्य बड़ी समस्या ये भी है कि बीजिंग के चाओयांग में सबसे ज्यादा कोरोना मामले मिल रहे हैं। चाओयांग ही वह इलाका है जहां देश की टॉप लीडरशिप रहती है। बीजिंग के अलावा ग्वांगझू, चोंगकिंग, जिनान, जियान, चेंगदू और लान्चो में भी बड़े पैमान पर कोरोना फैला हुआ है।
कड़े जीरो कोविड पॉलिसी को लेकर लोग नाराज हैरानी की बात यह है कि चीन की लगभग पूरी आबादी को कोरोना वैक्सीन का डोज लगा दिया जा चुका है। इसके बाद भी वहां कोरोना के केसों में फिर से तेजी रही है।
कठिन जीरो कोविड पॉलिसी के लागू होने के बाद भी कोरोना मामले को बढ़ते देख देश में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए हैं। बीते कुछ समय पहले चीन में सबसे बड़े आईफोन फैक्ट्री से लोगों को पैदल ही भाग जाने और कुछ दिन बाद सुरक्षाकर्मियों संग संघर्ष की भी खबरें मिली हैं।
By Sanjay Kumar Jha Oneindia source: oneindia.com Dailyhunt