'पृथ्वी शॉ आसपास भी नहीं हैं', शुबमन गिल को पहली टेस्ट सेंचुरी के बाद अजय जडेजा ने दी चेतावनी
शुबमन गिल ने बांग्लादेश के खिलाफ पहले टेस्ट मैच के तीसरे दिन करियर का बेहतरीन पहला शतक हासिल किया।
गिल की पारी प्रभावशाली थी जिसको देखना भी उतना ही अच्छा लग रहा था। गिल किसी एंगल से नए बल्लेबाज नहीं लग रहे थे।
उनके शॉट्स में स्टाइल है जो केएल राहुल के पास नहीं है।
इस पारी का लुत्फ काफी लोगों ने उठाया अगले ही मैच में रोहित शर्मा की वापसी हो रही है और गिल के चयन पर फिर से तलवार लटक सकती है।
रोहित किसी की जगह तो लेने आएंगेर्मा ही। यह गिल के की हो भी सकती है और नहीं भी।
या फिर अक्षर पटेल, श्रेयस अय्यर या केएल राहुल जैसे खिलाड़ियों को बाहर करके जगह बनाई जाए।
टेस्ट क्रिकेट में एक शतक एक बहुत बड़ा पल होता है। मुझे यह भी नहीं पता कि यह कैसा लगता है। यह सिर्फ एक संख्या है लेकिन एक बहुत महत्वपूर्ण है।
मैं केवल अपने बारे में बात कर सकता हूं और दूसरों के बारे में नहीं। शुबमन गिल को इस पल का स्वाद लेने की जरूरत है।
जडेजा के अनुसार गिल ने लगातार आगे बढ़ने की काबिलियत दिखाई है। जिस समय खिलाड़ी आगे बढ़ना रुक जाता है गड़बड़ स्टार्ट हो जाती है।
जडेजा ने इसके लिए पृथ्वी शॉ का उदाहरण दिया जो हाईप वाले बल्लेबाज थे लेकिन समय ने उनको फुस्स कर दिया।
गिल की सबसे अच्छी बात है, " मुझे उम्मीद है कि उनका करियर ग्राफ यहां से केवल आगे बढ़ेगा क्योंकि इस आदमी ने दिखाया है कि वह उन लोगों में से नहीं है जो कुछ रन बनाकर वापस चले गए हैं।
पृथ्वी शॉ भी उनकी आयु वर्ग के हैं, उन्होंने अपने पहले टेस्ट में शतक बनाया था लेकिन वह हैं इस समय आस- पास भी नहीं है।"
By Antriksh Singh Oneindia source: oneindia.com Dailyhunt