क्या आप जानते हैं : PF खाताधारकों के माता- पिता को भी मिलती है Pension, जानिए कब
वेतनभोगी कर्मचारियों के लिए पेंशन सुविधा को मैनेज करने वाला ईपीएफओ अपने सदस्यों के साथ- साथ उनके परिवार के सदस्यों को भी कई तरह के बेनेफिट प्रोवाइड करता है।
इसमें माता- पिता को मिलने वाली पेंशन भी शामिल है।
ईपीएफओ सदस्यों के माता- पिता को पेंशन ईपीएफओ सब्सक्राइबर्स को जो पेंशन मिलती है वो उनके साथ- साथ उन पर आश्रित लोगों की भी होती है।
होता यह है कि अगर किसी पीएफ खाताधारक की सर्विस के दौरान मृत्यु हो जाए तो फिर उसके परिवार ( खास तौर पर उसके माता- पिता) को उसकी पेंशन का लाभ मिलता है।
ईपीएफओ के मुताबिक अगर किसी बुजुर्ग के नौकरीपेशा बेटे या बेटी की मौत हो जाए तो यह उसका पूरा साथ देता है।
ईपीएफओ के नियमों की तो वे माता- पिता जिनके बच्चा गुजर गया तो उन्हें आजीवन पेंशन मिलती है। पर ऐसा नहीं है कि ये पेंशन ऐसे ही दी जाती है।
बल्कि इसके कुछ नियम और शर्तें तय की गयी हैं, जिनका जिक्र हम आगे करेंगे।
यदि यूएएन ईपीएफओ के साथ रजिस्टर है, तो आप 7738299899 पर एसएमएस भेजकर अपने लेटेस्ट योगदान और पीएफ बैलेंस की डिटेल प्राप्त कर सकते हैं।
आपको मैसेज ऐसे भेजना होगा - EPFOHO UAN ENG।' ENG' पसंदीदा भाषा के पहले तीन अक्षर हैं।
बिना यूएएन नंबर के कैसे करें चेक सबसे पहले epfindia.gov.in के ईपीएफ होम पेज पर लॉग इन करें और फिर ' क्लिक हेयर टू योअर पीएफ बैलेंस' पर ।
अब आपको epfoservices.in/epfo/ पर रीडायरेक्ट कर दिया जाएगा।" मेंबर बैलेंस इन- फॉर्मेशन" पर जाएं और राज्य का चयन करें और ईपीएफओ कार्यालय लिंक पर ।
फिर पीएफ खाता नंबर, नाम और पंजीकृत मोबाइल नंबर दर्ज करें और फिर ' सबमिट' पर और पीएफ बैलेंस प्रदर्शित हो जाएगा।
By Kashid Hussain Goodreturns source: goodreturns.in Dailyhunt