Flashback 2022 : पहली नजर में रीवा की कृष्णा मल्होत्रा को दिल दे बैठे थे राज कपूर, याद में बना ऑडिटोरियम
हिंदी सिनेमा के ग्रेट शोमैन राज कपूर का मध्य प्रदेश के रीवा शहर से खास लगाव रहा। असल, रीवा राज कपूर की ससुराल रही है और यहां बारात लेकर वह पत्नी कृष्णा से शादी करने पहुंचे थे।
राजकपूर के पिता पृथ्वीराज कपूर अपनी नाटक संस्था के साथ एक बार रीवा आए हुए थे।
यहां उनकी देखरेख की पूरी जिम्मेदारी आईजी करतार नाथ मल्होत्रा को सौंपी गई थी। जिनके साथ धीरे- धीरे पृथ्वीराज कपूर की अच्छी मित्रता हो गई।
राज कपूर की बारात मुंबई से ट्रेन से चलकर सतना आई थी। और फिर सतना से रीवा बारात को लाने के लिए, लॉरी, तांगा बैलगाड़ी, कार का इंतजाम किया गया था।
बारात रीवा के रॉयल मेंसन होटल, व्यंकट भवन और बैजू धर्मशाला में रुकी थी। वहीं पर बारात को रुकने के लिए जनमास था।
राज कपूर का विवाह 12 मई 1946 में रीवा में हुआ था। कृष्णा कपूर के साथ राज कूपर का विवाह पूरी शान- शौकत के साथ हुआ था।
शादी के वक्त कृष्णा की उम्र 16 वर्ष की थी और राज कपूर की 22 वर्ष के। कृष्णा के पिता करतार नाथ मल्होत्रा आईजी थे और उनका पूरी फैमिली रीवा में रहती थी।
कृष्णा राज कपूर की याद में बनाया गया ऑडिटोरियम विवाह के बाद राज कपूर ने जो सफलता पाई वह आसान नहीं थी। उनका करियर बुलंदियों पर पहुंचा।
विवाह के बाद ही राज कपूर की फिल्में सुपरहिट हुई थीं। जहां जगह पर विवाह संपन्न हुआ था।
राज कपूर के फिल्मो और कार में रीवा का जिक्र रीवा से राज कपूर का कितना लगाओ रहा है। इसकी झलक उनकी फिल्मों में भी देखी जा सकती है।
उन्होंने कई पिक्चरों में रीवा का जिक्र किया है। दिलचस्प बात यह है कि उनकी फोर व्हीलर का नम्बर भी रीवा का था।
By Rakesh Kumar Patel Oneindia source: oneindia.com Dailyhunt