चीन में चरम पर पहुंचा कोरोना, अस्पतालों के बाहर मर रहे मरीज, बीमार डॉक्टरों से चीन में कराई जा रही ड्यूटी
चीन में जीरो कोविड पॉलिसी में छूट देने की वजह से एक बार फिर से कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं।
कई रिपोर्ट्स की मानें तो चीन में तेजी से कोरोना के कारण होने वाली मौतें में इजाफा हुआ है।
ऐसा बताया जा रहा है कि चीन में कोरोना वायरस के कारण लगभग 20 लाख से भी अधिक लोगों की जान जा सकती है।
इस बीच चीन के अस्पतालों में मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। उनके सामने सबसे बड़ी कठिनाई बुजुर्ग निवासियों को बचाना है।
चीन के अस्पताल बुजुर्गों की जान बचाने की एक कठिन लड़ाई लड़ रहे हैं। ऐसी जानकारी मिल रही है कि चीन में दवाओं की भी घनघोर कमी है।
चीनी अधिकारियों ने तेजी से बढ़ते मामले और दवा की कमी को लेकर चेतावनी दी है।
उद्योग मंत्रालय के अधिकारी झोई जियान ने कुछ समय पहले कहा था कि देश प्रमुख दवाओं के उत्पादन में तेजी लाने के लिए हर संभव प्रयास कर रहा है।
चीनी विशेषज्ञों को डर है कि देश जीरो कोविड पॉलिसी में ढील से निकलने के लिए तैयार नहीं है।
चीन में अधिकांश कोरियर और डिलीवरी कर्मी कोरोना पॉजिटिव हैं।
WHO ने कहा कि वायरस पहले भी देश में फैल रहा था। जीरो कोविड पॉलिसी इसे रोक नहीं पाया।
कोरोना के मामलों को छिपाने में जुटा चीन अब आंकड़ों की डिटेल भी जारी नहीं कर रहा है।
हालांकि सोमवार को बताया गया कि 3 दिसंबर के बाद चीन में दो मौत कोरोना से हुई है।
By Sanjay Kumar Jha Oneindia source: oneindia.com Dailyhunt