उम्र बढ़ाने वाली मांसपेशियों के स्वास्थ्य के पीछे है सेरामाइड : रिसर्च में खुलासा
सेरामाइड्स स्फिंगोलिपिड्स हैं, जो फैट मॉलिक्यूल्स की फैमली है जो एनर्जी पैदा करने के बजाय सेल्स में कई तरह के कामों करता है।
इस शोध के दौरान रिसर्चर्स ने पाया कि उम्र बढ़ने पर, प्रोटीन एसपीटी और अन्य पर ओवरलोड हो जाता है, जिनमें से सभी को फैटी एसिड और अमीनो एसिड को सेरामाइड्स में बदलने की जरूरत होती है।
सेरामाइड ब्लॉकर्स ने उम्र बढ़ने के दौरान मांसपेशियों के नुकसान को रोकते हैं।
चूहों को मजबूत बनाया और उनके हारमोनी में सुधार करते हुए उन्हें लंबी दूरी तक चलाया।
वैज्ञानिकों ने आरएनए इनडैक्सिंग तकनीक का यूज करके मांसपेशियों में हर जीन प्रोडक्ट को मापा।
वैज्ञानिकों ने देखा कि क्या मसल्स में सेरामाइड्स को कम करना मनुष्यों में भी फायदेमंद हो सकता है।
70 - 80 साल के पुरुषों और महिलाओं की जांच की और पाया कि उनमें से 25% में जीन का एक विशेष रूप है जो मांसपेशियों में स्फिंगोलिपिड प्रोडक्शन पाथ के जीन प्रोडक्टों को कम करता है।
पालक और साग आपकी मसल्स को मजबूत करने के लिए काफी मददगार साबित होते हैं। एक कप पके हुए पालक में कैल्शियम की डेली इनटेक 25 फीसदी होता है।
इसमें भरपूर मात्रा में फाइबर, आयरन और विटामिन भी पाया जाता है।
फोर्टिफाइड फूड में ऑरेंज जूस, विटामिन डी वाले अनाज और कैल्शियम जैसे विटामिन और खनिजों से भरपूर होते हैं।
ये आपकी मजबूत हड्डियों और मसल्स ग्रोथ के लिए फायदेमंद हैं।
सी फूड फिश केवल आपके दिल के लिए बेहतर होती है बल्कि आपके हड्डियों और मांसपेशियों के लिए बेस्ट होती है।
फिश में विटामिन डी, के साथ कई अन्य प्रकार के मिनिरल्स पाये जाते हैं जो आपके स्वास्थ के लिए उत्तम होते हैं।
By Asma Fatima Boldsky source: boldsky.com Dailyhunt