Parenting Tips: माता- पिता की स्मोकिंग की आदत टीनएजर पर डाल सकती हैं बुरा असर
हाल ही में स्पेन के बार्सिलोना के यूरोपियन रेस्पिरेटसायरी सोटी इंटरनेशनल कांग्रेस के एक शोध के मुताबिक, जिन बच्चों के पेरेंट्स धूम्रपान करते हैं, उन किशोरों में भी ई- सिगरेट को ट्राई करने की संभावना 55 प्रतिशत ज्यादा होती है।
बच्चों का स्मोकिंग करने का कारण बच्चों के माता- पिता, या घर का अन्य कोई सदस्य स्मोकिंग करता हैं, तो इसका सीधा असर बच्चे पर पड़ता है।
स्मोकिंग करना शुरू कर देते हैं, तो इसका सीधा अस खतरार उनके दिल पर पड़ता है। लेकिन अगर छोटी उम्र में ही बच्चे स्मोकिंग के लिए हानिकारक है।
हर उम्र के लोगों के स्वास्थ्य के नुकसान का हो सकता है।
अगर आप या घर का कोई अन्य सदस्य स्मोकिंग करता है, तो ऐसे में स्मोकिंग जैसे बुरी आदत से बच्चों को दूर रखने के लिए आप कोशिश करें कि घर का कोई भी सदस्या उनके सामने कभी भी स्मोकिंग ना करें।
अगर बच्चा स्मोकिंग करने की बुरी आदत में फंस चुका है, तो आप उन्हें डांटे या मारे नहीं।
By Katyayani Tiwari Boldsky source: boldsky.com Dailyhunt