डायबिटीज रोगियों के लिए साइलेंट हार्ट अटैक सबसे बड़ा खतरा, जानें इसके पीछे मुख्य वजह
हार्ट अटैक एक ऐसी बीमारी है जो कभी भी हो सकती है, आप ये सोंच सकते हैं कि आप दिखने में स्वस्थ हैं और आपको हार्ट अटैक नहीं हो सकता, लेकिन जरूरी नहीं है कि जो दिखने मे फिट नजर रहा है उसका दिल भी स्वस्थ हो, इसका पता तो आपको इस साल हार्ट अटैक से होने वाली मौतों से हो गया होगा।
साइलेंट हार्ट अटैक, या साइलेंट मायोकार्डियल इन्फ्रक्शन ( SMI), दिल का दौरा है जिसमें कोई खास तरह के लक्षण दिखाई नहीं देते हैं।
यही वजह है कि सिमटम्स नजर नहीं आने के कारण रोगी इस बात से अनजान रहता है कि उसको हार्ट से रिलेटेस परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।
टाइप 2 डायबिटीज रोगियों को इस संकेतों को नजर अंदाज नहीं करना चाहिए।
टाइप 2 डायबिटीज साइलेंट हार्ट अटैक के खतरे को इस तरह से बढ़ाता है- ब्लड शुगर का लेवल बढ़ना, हाई कोलेस्ट्रॉल और मोटापा होना भी साइलेंट हार्ट अटैक की संभावना बढ़ा देता है।
टाइप 2 साइलेंट हार्ट अटैक की।
By Asma Fatima Boldsky source: boldsky.com Dailyhunt