चीन में कोरोना विस्फोट से दहशत में दुनिया, अमेरिका में बुखार की दवाओं की बिक्री पर बने नियम
चीन में कोरोना विस्फोट से पूरी दुनिया कांप गई है और ज्यादातर देशों में एक बार फिर से कोरोना को लेकर गाइडलाइंस आने लगे हैं।
अमेरिका में बुखार वाली दवाइयों को लेकर नये नियम बनाए गये हैं, ताकि जरूरत के वक्त बुखार की दवाओं के लिए अफरा- तफरी ना मचे।
सीवीएस और वालग्रीन्स ने बुखार कम करने वाली दवाओं की खरीद को सीमित करने के अपने फैसले की घोषणा की है।
कंपनियों ने कहा है कि, बच्चों में बुखार कम करने वाली दवाओं की बढ़ती मांग और कई बीमारियों के मामलों की बढ़ती संख्या के बीच अत्यधिक खरीद की कोशिश को रोकने के लिए यह फैसला लिया गया है।
हिल की रिपोर्ट के मुताबिक, सीवीएस कंपनी ने कहा है कि, " हम अपने ग्राहकों की जरूरतों को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं और इन वस्तुओं तक जरूरतमंदों तक लगातार पहुंच बनी रहे, लिहाजा हम अपने आपूर्तिकर्ताओं के साथ लगातार काम कर रहे हैं।"
आने वाले दिनों में अमेरिका में कोविड-19, वायरल फीवर, सांस संबंधी वायरस जनिक बीमारियां की लहर सकती है।
डॉक्टरों के मुताबिक, विशेष रूप से आरएसवी एक श्वसन बीमारी है, जो शिशुओं में सबसे गंभीर लक्षण पैदा कर सकती है।
6 महीने और उससे कम उम्र के बच्चों के लिए RSV का सबसे बड़ा खतरा होता है।
अमेरिका में भी कोविड के मामले बढ़े पूरे अमेरिका में COVID-19 मामलों में वृद्धि देखी जा रही है और कई क्षेत्रों में मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी देखी जा रही है।
वहीं, विशेषज्ञों ने इस साल के फ़्लू सीज़न के बारे में भी चिंता व्यक्त की है।
By Abhijat Shekhar Azad Oneindia source: oneindia.com Dailyhunt