Success Story : साइंटिस्ट ने लॉन्च किया ऑर्गेनिक ब्रांड, मासिक कमाई है लाखों में
इंशा रसूल ने अपनी पीएचडी पूरी करने के दौरान एक खास फैसला लेने के लिए खुद को छह महीने का समय देने का सोचा। वे एक दुविधा में थीं।
उन्होंने अपने लेक्चरर को सूचित किया कि अगर वह ऑर्गेनिक खेती में सफल नहीं हुई तो वह दक्षिण कोरियाई विश्वविद्यालय वापस चली जाएंगी जहां वह मॉलिक्यूलर सिग्नलिंग की पढ़ाई कर रही थीं।
2018 में लिया अहम फैसला 2018 में इंशा ने अपना बैग पैक किया और जम्मू- कश्मीर में अपनी मातृभूमि बडगाम वापस गईं।
उस समय, उनके पास केवल 3 .5 एकड़ पुश्तैनी जमीन थी, जहां उनके परिवार ने पीढ़ियों से चीजें उगाई थीं।
उन्होंने स्थानीय खेतों से संपर्क किया, खाद और बीज खरीदे, और रोपण, जुताई और अन्य कार्यों में मदद करने के लिए श्रमिकों को काम पर रखा।
वह ट्रेनिंग से एक वैज्ञानिक थीं, इसलिए वह जानती थी कि अकेले रिसर्च से फसल नहीं मिलेगी।
उन्होंने विभिन्न मौसमों में बीज की विभिन्नई किस्मों साथ के साथ महीनों तक प्रयोग किया।
बीज उन्होंने मौसम के महीनों तक प्रयोग किया किोंने कईकईौसमों में में की कई- भी सफल होने से अधिक बार विफल रहीं।
इंशा ने होमग्रीन्स, एक " फार्म- टू- फोर्क" ब्रांड की शुरुआत की, जिसे इंशा ने पिछले दो वर्षों में डेवलप किया था।
इंशा, भारतीय विज्ञान संस्थान से ग्रेजुएट हैं। उन्होंने ज्यादातर कीटों से बचाव के लिए इंटरक्रॉपिंग मेथड का उपयोग करना भी शुरू कर दिया।
इंशा अपने फेसबुक और इंस्टाग्राम पेज पर अपनी फसल बेचती हैं। वह दावा करती हैं कि पोस्ट अपलोड होने के 24 घंटे के भीतर अधिकांश उत्पाद बिक जाते हैं।
उन्होंने कहा कि पिछले साल नवंबर और दिसंबर में उन्होंने करीब 8 लाख रुपये कमाए थे।
By Kashid Hussain Goodreturns source: goodreturns.in Dailyhunt