Varanasi News: मिड डे मील में मशरूम का लुफ्त उठाएंगे स्टूडेंट, किसानों की होगी कमाई
वाराणसी जिले में प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में मध्यान्ह भोजन योजना के अंतर्गत बच्चों को मशरूम की सब्जी भी खाने को मिलेगी।
मशरूम की आपूर्ति हेतु टेक्निकल सपोर्ट यूनिट कृषि विभाग उत्तर प्रदेश के समर्थन द्वारा बेसिक शिक्षा विभाग एवं कृषक उत्पादक संगठन और औद्यानिक विपणन सहकारी समिति लिमिटेड के बीच मंगलवार को एक एमओयू हस्ताक्षरित किया गया।
मशरूम की सब्जी उपलब्ध कराई जाएगी। यह भी कहा गया कि इस योजना के प्रथम चरण की शुरुआत के लिए काशी विद्यापीठ ब् लाक का चयन किया गया है।
मशरूम की सब्जी खाने से सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को जहां लाभ मिलेगा वहीं किसानों की आय भी दोगुनी होगी।
बताया गया कि जिले में किसानों द्वारा उत्पादित किए जाने वाले मशरूम की आपूर्ति एफपीओ के माध्यम से विद्यालयों में कराई जाएगी।
काशी विद्यापीठ के 8 हजार से अधिक बच्चों को लाभान्वित अधिकारियों द्वारा बताया गया कि यह योजना काशी विद्यापीठ ब्लाक से शुरू की जा रही है।
प्रथम चरण में इस योजना का प्रारंभ वाराणसी जिले के काशी विद्यापीठ ब्लाक के 25 विद्यालयों में प्रारंभ कराई जाएगी जिसमें 8000 बच्चों को सप् ताह में एक दिन मशरूम की सब्जी खाने को मिलेगी।
इस योजना की शुरुआत पायलट प्रोजेक्ट के रूप में की जाएगी।
By Pravin Kumar Yadav Oneindia source: oneindia.com Dailyhunt