UPSC ISS : राजस्‍थान के मोजास की शालिनी शेखावत ने मारी बाजी, किसान का बेटा राहुल बगड़िया भी बना अफसर
संघ लोक सेवा आयोग ( UPSC) ने 28 दिसम् बर 2022 को भारतीय सांख्यिकी सेवा का फाइनल रिजल् जारी किया है।
राजस् थान के झुंझुनूं जिले के गांव मोजास की रहने वाली शालिनी शेखावत ने अखिल भारतीय स् तर पर यूपीएससी की आईएसएस परीक्षा में सातवीं रैंक हासिल की है।
शालिनी के पति हरेंद्र सिंह शेखावत जयपुर में नामी शख्सियत हैं।
गांव झूंपा के रहने वाले हैं राहुल बगडिया इधर, सीकर जिले के गांव झूंपा निवासी शंकरलाल बगडिया ने भी भारतीय सांख्यिकी सेवा परीक्षा में बाजी मारी है।
बगडिया ने ऑल इंडिया 17वीं रैंक हासिल की है। ये किसान के बेटे हैं। पिता मदनलाल बगडिया पहले सूरत में टाइल्‍स का काम किया करते थे।
अब गांव में ही रहकर खेती करते हैं।
राहुल बगडिया ने दिल् ली के रामजस कॉलेज से बीएससी ( ऑनर्स) सांख्यिकी एवं दिल्ली यूनिवर्सिटी से ही एमएससी सांख्यिकी की डिग्री प्राप्त की है।
राहुल वर्तमान में राजस् थान विश् वविद्यालय में सांख् यिकी विभाग में पीएचडी के शोधार्थी हैं।
राहुल बगडिया ने आईआईटी मुंबई से एमएससी सांख्यिकी का ऑफर तक ठुकराया दिया था। बगडिया ने गेट परीक्षा भी 91वीं रैंक के साथ पास की थी।
दसवीं कक्षा में राजस्थान बोर्ड में गणित विषय में 100 में से 100 अंक पाए। बगडिया गए।
यूपीएससी की आईएसएस परीक्षा संघ लोक सेवा आयोग की ओर से मिनिस्ट्री ऑफ स्टेटिस्टिक्स एंड प्रोग्राम इम्प्लीमेंटेशन की इंटर- मिनिस्ट्री सर्विस के लिए आयोजित की जाती है।
चयनितों को भारत सरकार की तरफ से भारत सरकार के विभिन्न मंत्रालयों में असिस्टेंट डायरेक्टर के पद पर पोस्टिंग दी जाती है।
By Vishwanath Saini Oneindia source: oneindia.com Dailyhunt