MP Weather Today: बर्फीली हवाओं ने MP में बढ़ाई ठंड, शीतलहर की चपेट में प्रदेश, घने कोहरे ने घटाई विजिबिलिटी
मध्य प्रदेश में भी नए साल में पारा एकदम से धड़ाम हुआ है। जबलपुर समेत राजधानी भोपाल, ग्वालियर, सागर और होशंगाबाद संभाग में तीखी ठंड का अहसास हो रहा हैं।
लगातार दूसरे दिन भी सुबह घने कोहरे की चादर में लिपटी रही। विजिबिलिटी काफी कम हो गई।
नए साल में पारा हुआ धड़ाम, ठिठुरा मप्र कुछ दिनों के ब्रेक के बाद बर्फीली हवाओं की खेप ने मध्य प्रदेश का पारा फिर गिरा दिया है।
गुजरे साल के दिसंबर के पहले पखवाड़े में तेज ठंड के अहसास से मालवा और चंबल अंचल बचा था, वह भी अब चपेट में है।
तीखी ठंड के साथ कोहरे का असर प्रदेश में फिलहाल मालवा अंचल में थोड़ी राहत है।
महाकौशल, नर्मदापुरम, बुंदेलखंड, चंबल और विंध्य में ठंड के तीखे तेवर बरक़रार है।
पिछले दो दिनों में एक दम से 5 से 7 डिग्री पारा गिरने से लोगों को दिन के वक्त भी गर्म कपड़ों में रहने मजबूर कर दिया हैं।
मौसम विभाग के मुताबिक चंबल के भिंड, दतिया, बुंदेलखंड में नौगांव, खजुराहों, विंध्य में रीवा, सतना में ज्यादा ठिठुरन हैं।
पचमढ़ी हिल स्टेशन में भी तापमान में 3 से 4 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई। मंडला, सिवनी, डिंडौरी जिले में न्यूनतम तापमान 8 से 10 डिग्री के बीच अटका है।
मावठा बढ़ाएगा और मुश्किलें मौसम विज्ञानी पीके साहा ने बताया कि आने वाले 3 - 4 दिन और मुश्किल भरे हो सकते हैं। मावठा गिरने का अनुमान है।
प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश के बाद घना कोहरा धुंध छाया रहेगा। उसके बाद तापमान में और गिरावट दर्ज होगी।
ऐसे मौसम में लोगों को भी सतर्क रहने की सलाह दी जा रही है। लोग गर्म कपड़ों के उपयोग के साथ ठंड से बचाव के अन्य उपाय करते दिख रहे हैं।
दिसंबर में कुछ जगहों पर प्रभाव देखने को मिला, लेकिन अब जनवरी- फरवरी में पूरे प्रदेश में इसका असर रहेगा।
By Kartik Agnihotri Oneindia source: oneindia.com Dailyhunt