Fasting Tea : फास्टिंग टी क्या है? नये साल में सबसे ज्यादा सर्च हो रही फास्टिंग चाय के बारें में जानें
फास्टिंग टी गूगल पर काफी ट्रेंड कर रही है। फास्टिंग टी का मतलब नो कैलोरी टी है। अरे जरा रूकिये.. ये मत सोचिये की इसमें कुछ होगा ही नहीं, ऐसा कतई नहीं है।
इस चाय को आप फास्टिंग के दौरान पीते हैं। लेकिन इसको बनाने में आपको अपनी नॉर्मल चाय से थोड़ा सा किनारा करना होगा।
फास्टिंग टी के हेल्थ बेनिफिट्स क्या है ?
वजन कम करने के दौरान पहले कुछ दिनों में भूख लगती है लेकिन उपवास की स्थिति में आने के बाद आप इस चाय का सेवन कर सकते हैं।
चाय भूख लगने वाले हार्मोन को नियंत्रण में रखने और बताने वाले दर्द से बचने में मदद कर सकती है।
बेस्ट फास्टिंग चाय 1. ग्रीन टी पानी के बाद ग्रीन टी को ही सबसे स्वास्थ्यप्रद पेय मानी जाती है। इस चाय में कैटेचिन नामक यौगिक होता है।
ये कैटेचिन, कैफीन के साथ, आपकी ऊर्जा को बढ़ा सकते हैं और वजन घटाने में भी मदद कर सकते हैं।
काली चाय ब्लैक टी एक प्रीबायोटिक के रूप में भी काम कर सकती है, जो आंत के स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद करती है।
काली चाय में अधिक कैफीन होता है, जो विशेष रूप से सहायक हो सकता है। अगर आप अपनी उपवास प्रक्रिया की शुरुआत कर रहे हैं तो ये आपके लिए फायदेमंद है।
हिबिस्कुस चाय गुड़हल का फूल खूबसूरत होने के साथ कई स्वास्थ्य लाभों के लिए जाना जाता है।
गुड़हल की चाय आपकी त्वचा को स्वस्थ, चमकदार और जवान दिखने में मदद कर सकती है। शरीर को डिटॉक्स भी कर सकता है।
हिबिस्कस चाय में कैफीन नहीं होती है इसलिए अगर आप थकान महसूस कर रहे हैं तो ये आपको उत्तेजित नहीं करेगी।
By Asma Fatima Boldsky source: boldsky.com Dailyhunt