Chirag Paswan को ' z' security मिलने से अटकलों का बाज़ार गर्म, निकाले जा रहे सियासी मायने
बिहार सियासी फि बदलती हुई नज़र रही है, महागठबंधन के नेता पने ही सहयोगी दलों के नेताओं के खिलाफ़ बयानबाज़ी कर रहे हैं।
वहीं चिराग पासवान को जेड सिक्योरिटी मिलने के बाद सियासी गलियारों में अटकलों का बाज़ार गर्म हो चुका है।
खुफिया विभाग ने चिराग पासवान की जान को खतरा बताया था। सुरक्षा मिलने के बाद चिराग पासवान वीआईपी कैटेगरि में गए हैं।
उनकी सुरक्षा में 33 सुरक्षा गार्ड तैनात रहेंगे, वहीं उनके आवास पर 10 सुरक्षा कर्मी हथियार के साथ तैनात रहेंगे।
चिराग पासवान की एनडीए में वापसी अटकलें तेज़ तो हुईं हैं लेकिन उनका एनडीए में जाने का रास्ता अभी भी पूरी तरह से साफ नहीं है।
पशुपति पारस ने हाल ही में बयान दिया था कि दल टूटने पर जुड़ जाता है लेकिन चिराग पासवान ने तो दिल तोड़ा है।
सियासी ज़मीन मजबूत करने में जुटे चिराग रामविलास पासवान के पिता) एनडीए में शामिल थे।
इसके साथ- साथ वह मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री की ज़िम्मेदारी भी संभाल रहे थे।
चिराग पासवान और पशुपति पारस के पिता के निधन के बाद पार्टी टूटी तो चिराग पासवान को अपना वजूद बचाने के लिए सहारे की ज़रूरत पड़ने लगी।
By Inzamam Wahidi Oneindia source: oneindia.com Dailyhunt