कमाल : अब गोबर से चलाएं ट्रैक्टर, हो गया आविष्कारक
वैज्ञानिकों ने अब गोबर से चलने वाले ट्रैक्टर बना दिया है। ब्रिटिश कंपनी बेनामन ने बनाए इस ट्रैक्टर का नाम न्यू हॉलैंड टी 7 रखा है।
खेती के काम के लिए यह ट्रैक्टर गेम चेंजर साबित हो सकता है। यह ट्रैक्टर 270 हॉर्सपावर का है। जैविक खेती के लिए गोबर की बेहद अहम भूमिका होती है।
ट्रैक्टर को चलाने के लिए जो गाय का गोबर है। इसको इकट्ठा उसे बायोमीथेन में बदला गया। ट्रैक्टर में इसके लिए एक क्रॉयोजेनिक टैंक भी लगाया गया है।
जिसमें गोबर से बने बायोमीथेन ईंधन का उपयोग किया जाता है। 162 डिग्री के तापमान में बायोमीथेन क्रॉयोजेनिक टैंक को लिक्विफाइड करता है।
क्यों गाय का गोबर ही अब आपके मन में एक सवाल तो जरूर ही आता होगा। कि गाय के गोबर का ही क्यों उपयोग किया जा रहा है। ऐसे में बता दें कि गाय के गोबर होता है।
इसमें फ्यूजिटिव मीथेन गैस पाई जाती है। जो बाद में बायोमीथेन ईंधन में बदल जाती है। इसके उपयोग से किसान का काम बेहद ही आसान हो जाएगा।
इतना ही इसके साथ ही यह प्रदूषण रोकने में भी बेहद सहायता मिलेगी।
आएगी कटौती ट्रैक्टर को टेस्ट करने के लिए कॉर्नवॉल में स्थित एक फॉर्म में चलाया गया है। इसके बाद एक्स्ट्रा खर्च में कमी आयेगी।
जिस वजह से किसानों के मुनाफे में बढ़ोतरी होगी।
By Ritesh Pateliya Goodreturns source: goodreturns.in Dailyhunt