अजब- गजब : 2022 में इन देशों ने खरीदा सबसे अधिक Gold, लिस्ट में भारत भी शामिल
भारतीयों के लिए सोना सिर्फ एक मेटल नहीं है बल्कि इमोशन हैं। भारतीयों के अलावा अन्य देशों के लिए भी कुछ ऐसा ही है।
इस फैक्ट के बावजूद कि अब तक खनन किए गए सोने का केवल 10 प्रतिशत ही औद्योगिक तौर पर इस्तेमाल में लाया गया है।
गोल्ड सोने की अवधि में दुनिया भर के केंद्रीय बैंकों ने अकेले तीसरी तिमाही में 440 टन के साथ सामूहिक रूप से 670 टन सोना खरीदा।
Gold Price in 2023: क्या सोना जाएगा 60,000 के पार, क्यों बढ़ रहे हैं दाम? Gold Outlook | GoodReturns
तुर्की 2022 में टॉप सोना खरीदार देश के रूप में उभरा।
इसने जनवरी- सितंबर तिमाही के दौरान 94 .63 टन सोना खरीदा, जो मिस्र द्वारा खरीदे गए 44 .41 टन से दोगुने से भी अधिक है।
इसी अवधि के दौरान 31 .25 टन सोने की खरीद के साथ भारत इराक के बाद चौथे स्थान पर रहा।
नवंबर 2022 में भारत के लिए सो अबने को खरीद रहा है। भारत विदेशी मुद्रा भंडार में सोना के कुल विदेशी मुद्रा भंडार में के लिए सोने को खरीद 7 .26 प्रतिशत थी।
सोने की हिस्सेदारी 7 .26 प्रतिशत थी। अपने डायवर्सिफिकेशन लाने और भारतीय करेंसी में किसी भी गिरावट को कम करने
दुनिया के 78 .6 प्रतिशत केंद्रीय बैंकों ने माना कि वैश्विक वित्तीय संकट का जोखिम है। 57 .1 प्रतिशत का मानना है कि ग्लोबल मनी पॉलिसीज में बदलाव होंगे।
अन्य 57 .1 प्रतिशत केंद्रीय बैंक अमेरिका में आर्थिक जोखिम देख रहे हैं।
दुनिया भर के 50 प्रतिशत केंद्रीय बैंक सोने की खरीदारी के लिए उत्साह दिखा रहे हैं क्योंकि वे बढ़ती मुद्रास्फीति से चिंतित हैं।
By Kashid Hussain Goodreturns source: goodreturns.in Dailyhunt