Bihar में एक और युवक ने डिग्री के नाम पर खोली चाय की दुकान, जानिए Tea Stall खोलने की वजह
बिहार में अभी तक एमबीए, ग्रेजुएट, मैट्रिक फेल, क़ैदी और बेवफ़ा चाय स्टॉल के बारे में आपने सुना और देखा होगा।
लेकिन आज हम आपको डिप्लोमा इंजीनियर चाय वाले की कहानी से रूबरू करवाने जा रहे हैं।
मुकेश कुमार रॉय शेखपुरा ज़िला के शेखूपुर गांव का रहने वाला है, साल 2019 में पंजाब यूनिवर्सिटी से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा की डिग्री हासिल की, रोजगार की तलाश में इधर उधर भटका लेकिन नौकरी नहीं मिली।
मुकेश ने अपने दोस्त के साथ मिलकर डिप्लोमा पास चाय वाला के नाम से टी स्टॉल खोलकर नए साल की शुरुआत की।
स्थाई जगह नहीं मिल पाने की वजह से वह इधर उधर घूमकर स्टॉल चलाना शुरू किया।
आखिरकार उसे एक स्थाई जगह मिल गया और उसने बिहार शरीफ़ मुख्यालय के रजिस्ट्री कचहरी के पास टी स्टॉल लगाया।
मुकेश कुमार रॉय के पिता सेवक रावत का घर शेखपुरा ज़िला के शेखुपुरसराय में है।
अन्य युवाओं को भी रोजगार देने का लक्ष्य परिवार की ज़िम्मेदारियों को देखते हुए मुकेश ने चाय का स्टॉल खोल लिया, इससे ही छोटे भाई की पढ़ाई, घर का खर्च और अपना पॉकेट खर्च मेंटेन कर रहा है।
मुकेश ने बताया कि जब वह पंजाब से डिप्लोमा की पढ़ाई कर रहा था तब उसके रूममेट उसकी चाय की काफी तारीफ़ करते थे।
By Inzamam Wahidi Oneindia source: oneindia.com Dailyhunt